Advance SriVidya Essential Course

Advance SriVidya Essential Course


नमस्ते मित्रों ,
श्रीविद्या पीठम में आप सभीका स्वागत हैं ।

हम श्रीविद्या पीठम द्वारा अत्यंत गुह्य गोपनीय तथा किसी भी ग्रंथ में ना लिखा हुआ । ऐसा अद्भुत कोर्स आपके सामने रख रहे हैं ।
सात साल पहले SriVidya Essentials Course हमने आपके सामने रखा था । इसमें काफी सारा यश और बहुत लोग इस कोर्स को जॉइन हुए थे । उसके बाद हम ……..इसके आगे का ज्ञान आपके सामने रख रहे हैं ।

Advance SriVidya Essential Course में 98% ज्ञान किसी भी ग्रंथ का अथवा किसी भी व्यक्ति का लिया हुआ नहीं हैं । तथा इसका 98% भाग का ज्ञान श्रीविद्या सहित श्रीललिता त्रिपुरसुंदरी और उनका श्रीयंत्र रूपी महल इस विषय पर गोपनीय ज्ञान प्रस्तुत किया हैं ।

इनमें हमने बारीकियों से श्रीविद्या का ज्ञान दिया हैं और जितने भी भ्रम , कल्पना फैले हुए हैं उनको दूर करने की कोशिश की हैं ।
इस कोर्स के उपरांत आपको सत्य कल्पनातीत होता हैं , यह महसूस होगा ।

एक नए ज्ञान की शुरुआत , एक नए जीवन की शुरुआत , एक नए साधना की शुरुआत ।

नीचे दिए सूची अनुक्रमणिका को ठीक से पढ़िए । उपरोक्त सभी विषय इस कोर्स में ज्ञानरूप बताए गए हैं ।

अनुक्रमणिका

Part 1 : श्रीविद्या में श्रीकुल और काली कुल क्या हैं ? | महाविद्याओं का रहस्य ? | ललिता – उमा – लक्ष्मी – सरस्वती की अपनी अपनी महाविद्याएं कौनसी हैं ? | अघोर ललिता – मांत्रिक ललिता – तांत्रिक ललिता – कृश ललिता क्या हैं ? | दत्तात्रेय और अनघालक्ष्मी कि जन्मकथा , उनका श्रीविद्या से और ललिता से गुप्त संबंध क्या हैं ?

Part 2 : गंधमादन पर्वत का रहस्य | भगवान परशुराम और त्रिपुरा रहस्य के परशुराम दोनों के रहस्य का अद्भुत वर्णन | ललिता त्रिपुरसुंदरी का गर्भावस्था का रहस्य | ललिता के गर्भावस्था के समय श्रीविद्या का गुरुमंडल क्या करता हैं ? | ललिता के गर्भपोषण रहस्य | ललिता के प्रमुख भैरवों का रहस्य | ललिता के कितने पुत्र हैं ? | अजामल पुत्र की कथा |

Part 3 : ललिता शब्द का अर्थ | तीन ललिताए और पाँच प्रकार | ललिता के हृदय पर कौनसा चक्र घूमता हैं ? | ललिता – कामेश्वर – बाला त्रिपुरसुंदरी के शरीर पर चिन्हों के रहस्य | ललिता त्रिपुरसुंदरी के हाथों के ऊपर तोता क्यो होता हैं और वह तोता ललिता के बाल क्यों नोचता हैं ? | हाथी वाहन का रहस्य |

Part 4 : श्रीविद्या में कौलाचार शब्द का अर्थ | कादी हादी सहादी श्रीविद्या रहस्य | नंदी गरूड़ खरगोश को श्रीविद्या के प्रथम अधिकार कैसे मिले ? | श्रीविद्या के गुरुमंडल का रहस्य | श्रीचर्यानंदनाथ और श्रीविद्यानंदनाथ का गुप्त रहस्य | श्रीविद्या में नंद और नाथ की भूमिका | कोल्हापुर के अंबाबाई मन्दिर में प्राचीन पत्थर पर श्रीयंत्र की आकृति कहा से बनी ? | अंबाबाई मंदिर का श्रीयंत्र और तिरुपति बालाजी का संबंध | विंध्याचल पर्वत पर प्राचीन पत्थर पर बना श्रीयंत्र कहा से आया ? |

Part 5 : लोपामुद्रा जी क्या सच में श्रीविद्या साधक थी ? | अगस्ति मुनि जी को हयग्रीव जी से श्रीविद्या दीक्षा क्यों लेनी पड़ी ? | हयग्रीव जी ने घोड़े का ही रूप क्यों धारण किया ? | मेरु पर्वत का सत्य | दुर्वासा ऋषि की श्रीविद्या साधना का सत्य | श्रीविद्या और कामदेव का रहस्य | कामदेव कितने प्रकार के हैं ? | भंडासुर जन्म कथा रहस्य | भंडासुर और दत्तात्रेय जी का नाता कैसे था ? |

Part 6 : राजमातंगी देवी का श्रीविद्या और श्रीयंत्र महल में स्थान | राजमातंगी देवी के पति – पोशाख – अधिकार – तोते – दो तोतो के रहस्य | गेयचक्र रथ – रथ का डिझाइन – पय्ये – घोड़े आदि वर्णन | क्रोकाशेश्वरी देवी – काली कुल – शालिग्राम – काले पानी का कलश | महाबला देवी से राजमातंगी से संबंध | संगीत श्यामला का रहस्य | राक्षी और विज्ञापना देवी रहस्य – उनके आयुध – गुण | कर्णीरथ रहस्य | पंचकाम तत्वों का राजमातंगी देवी से संबंध | कदंब वृक्ष का राजमातंगी देवी से संबंध | यंत्रिनि और तंत्रिनि देवी रहस्य |

Part 7 : दंडनायिका महावाराही देवी – उनके पति – कार्यपद्धति – महल की जानकारी | वाहंबी देवी – काली कुल संबंध | कुरुकुल्ला देवी रहस्य – श्रीविद्या से संबंध | कुंभरी शक्ति रहस्य | वाराही की द्वारनायिका शक्तियाँ | वाराही के मूसल आयुध रहस्य – हल आयुध रहस्य | किरीचक्र रहस्य | चंड भैरव रहस्य | चामर शस्त्र का रहस्य | वाराही के चित्ररथ का रहस्य | आक्षाई – इलाई – उहाई – ऋसाई – एसाई – ओवाई का रहस्य |

Part 8 : श्री दक्षिणामूर्ति देवता का श्रीविद्या में स्थान – उनके डमरू – मशाल रूप अग्नि का रहस्य | कामेश्वर शिव और पार्वती पति महादेव रहस्य – दोनों के डमरू रहस्य |

Part 9 : शंखढाल दीक्षा – महागणपति रहस्य – नाथ दीक्षा पद्धति | महागणपति के हाथों के लिली फूल – धान – अमृतकलश – नेवले का रहस्य | क्षिप्रा गणेश – वल्लभ गणेश का महागणपति से संबंध | वांछाकल्पलता गणेशी रहस्य | बाला त्रिपुरसुंदरी और महागणपति रहस्य |

Part 10 : श्रीविद्या में मार्तंड भैरव का रहस्य | श्रीयंत्र में प्रथम पूजन में मान क्यों मिला ? | बिजली के चिन्ह – तप की डंडी – खोपड़ी – जपमाला रहस्य | अष्टसखी और श्रीयंत्र रहस्य | सहस्रनाम से बना श्रीयंत्र का रहस्य | श्रीयंत्र के गुप्त प्रकार | राजमातंगी – महावाराही के यंत्र | संतो के – देवलोक – अधोलोक के श्रीयंत्र रहस्य | श्रीयंत्र के वृत्तत्रय चक्र निरूपण | नव आवरण – दश आवरण – सोलह आवरण रूप श्रीयंत्र रहस्य | बिंदु से महाबिन्दु तक का रहस्य | वज्रप्रस्तारिणी रहस्य |

Part 11 : ललिता त्रिपुरसुंदरी की चेटिका शक्तियाँ – चेटिका बनती कैसे हैं ? | चेटिका के कार्यपद्धति | कामेश्वर शिव और चेटिका |

Part 12 : ललिता त्रिपुरसुंदरी के प्रमुख गहनों के रहस्य | चूड़ियों के तत्व – पायल – बाजूबंद | कुंकम का रहस्य | काजल का रहस्य | हीरे के द्वारा ललिता देवी का काजल कैसे बनता हैं ?

Part 13 : ललिता त्रिपुरसुंदरी के हाथों की अंगूठियों का रहस्य | उनकी नक्काशी – आकृति सहित – कौनसे डायमंड लगे होते हैं – उनके नाम | निलकांश अंगुठी – उर्जायांश अंगुठी – कृमकांत अंगुठी |

Part 14 : ललिता त्रिपुरसुंदरी के सबसे प्रिय महाकामेश्वर अस्त्र का निर्माण कहा से हुआ ? | महाकामेश्वर अस्त्र से कामेश्वर शिव का संबंध क्या हैं ? | महाकामेश्वर अस्त्र से धूमावती देवी के कव्वे से क्या संबंध हैं ? | यह अस्त्र दिखने के लिए होता कैसे हैं ? | महाकामेश्वर अस्त्र – धूमावती का कव्वा – भंडासुर – कामेश्वर – ललिता , इन सबका एक दूसरे के साथ जुड़ाव कैसे हैं ? |
भंडासुर युद्ध में ललिता ने महातरणी बाण – गायत्र्य अस्त्र – चाक्षुमत अस्त्र – महामृत्युंजय अस्त्र – धारणास्त्र – ऐन्द्रास्त्र – नामत्रय महामंत्र अस्त्र – कालकर्षिणी अस्त्र , ये सब अस्त्र कैसे दिखते हैं ? | उनकी पूर्ण आकृतियां |
महावाग्वादिनी अस्त्र – मूक अस्त्र – अर्णवास्त्र – महाभोगखर्पर अस्त्र – महामोहास्त्र – शाम्भव अस्त्र – नारायण अस्त्र – पाशुपत अस्त्र , इन सभी का श्रीविद्या में महत्व हैं । इन सभी की आकृति और वैज्ञानिक समझ |

Part : 15 अष्टसखी देवियाँ और ललिता त्रिपुरसुंदरी , इन सबका एक दूसरे के साथ क्या संबंध हैं ? | ललिता सखी और ललिता त्रिपुरसुंदरी का संबंध क्या हैं ? | श्रीविद्या श्रीललिता के भैरव की प्रकृति का अष्टसखी शक्तियों से संबंध कैसा हैं ? |

Part : 16 निलावंती ग्रंथ का श्रीविद्या श्रीललिता के ज्ञान में कितना महत्व हैं ?

Part : 17 मुद्रा शास्त्र | महागणपति – बाला – राजमातंगी – महावाराही – चेटिका – वज्रप्रस्तारिणी देवी इन सबकी मुद्राओं के नाम |
अद्वैत शास्त्र और श्रीविद्या का संबंध | संत बनने की प्रक्रिया श्रीविद्या में कैसे होती हैं ? |
आदिशंकराचार्य जी का श्रीविद्या में क्या संबंध हैं ? | महावतार बाबाजी और आदिशंकराचार्य जी का संबंध हैं ? |

आदि संपूर्ण जानकारी के साथ हम Advance SriVidya Essentials Course आपके सामने प्रस्तुत कर रहे हैं ।

इसमें 17 भाग में 720 मिनिट्स , 12 घँटे से अधिक के लेक्चर्स हैं ।
आप श्रीविद्या के अधिक ज्ञान के लिए इस कोर्स में शामिल हो सकते हैं ।

Energy Exchange : 10001/- OR 251$                                      ( Out of India )

For Google Pay Say  ” Advance SriVidya Essentials ”  From your Google Pay/Tez – +91 98603 95985

We will provide you access to the course within 24 hrs. For payment through Paypal you will receive instant access.

by Bank Transfer :

Nivrutti Anil Ubale.
Induslnd Bank ,
AC No. 153131445151
IFSC Code : INDB0001365
City : Kankavli

For any questions about the course please contact us by email or whatsapp as above.